sahityase

hindi,language,literature,grammar,story,learning,poets,writers,comedy,books,career,reasurch,festival,film,technique, biography,rachnaye,hindi khoj

Translate

 जीवन में टर्ननिंग प्वाइंट कैसे चुने

जीवन में टर्ननिंग प्वाइंट कैसे चुने
जीवन में टर्ननिंग प्वाइंट कैसे चुने

जीवन में टर्ननिंग प्वाइंट कैसे चुने

नमस्कार मित्रों 

आज हम बात करेंगे एक ऐसे विषय पर जो कि हर व्यक्ति के जीवन में एक महत्वपूर्ण भूमिका अदा करती है। हमारा आज का विषय है " जीवन में टर्निंग प्वाइंट कैसे लाएं अर्थात जीवन में बदलाव कैसे लेकर आए...

हर व्यक्ति अपने जीवन को जीने के लिए व उसे सुचारू रूप से गतिशील बनाए रखने के लिए तरह तरह के नियमों एवं उपायों को अपनाता है , जिससे वह अपने जीवन को प्रस्नता पूर्वक  व्यतीत करता है । तो चलिए आज हम जानते है कुछ ऐसे ही नियम एवं उपाय जिसे अपनाकर हम अपने जीवन के हर लम्हें को कुशलतापूर्वक जी सकें ।

जीवन को खुशहाल व गतिशील बनाए रखने के लिए कुछ नियम व बदलाव हर किसी को अपनाना चाहिए जिससे कि वे अपने जीवन का भरपूर आनंद ले सके आइए हम आगे देखते है कि वे कौन कौन से बदलाव है जिनसे हम अपनी ज़िन्दगी को बेहतर से बेहतर बना सकते है ।

जीवन में बदलाव लाने वाले कुछ महत्वपूर्ण बिंदु -:

1- सकारात्मक विचारों को अपनाकर

2- बुरी आदतों का त्याग 

3- जीवन का लक्ष्य 

4- नकारात्मक लोगो से दूरी 

5- एक उचित दिनचर्या 

ये कुछ महत्वपूर्ण बिंदु है जिसे अपनाकर हम अपने आगामी जीवन को और अधिक खुशहाल व आनंदमय बना सकते है...आइए हम इन बिंदुओं पर पूर्ण रूप से जानकारी प्राप्त करें । और जानने का प्रयास करें कि किस तरह से हम इन नियमों को अपनाकर अपने जीवन में एक नई ऊर्जा और बदलाव कैसे लाएं।

1- सकारत्मक विचारों को अपनाकर -: 

हमारा पहला बिंदु है सकारत्मक विचारों को अपनाना जिससे हम अपने जीवन में एक अच्छा बदलाव ला सकते है लेकिन अब सबसे बड़ा प्रश्न ये उठता है कि हम इसे कैसे और किस प्रकार से अपने जीवन में अपना सकते है। सकारत्मक विचार हमें एक आनंदमय व खुशहाल जिंदगी जीने के लिए प्रेरित करती है तथा इसके साथ ही हमारे जीवन में कई सकारत्मक बदलाव आते है। हम सकारत्मक चिंतन करके व सकारत्मक लोगों के संपर्क में रहकर सकारत्मक विचारों को सरलता पूर्वक अपना सकते है तथा इसके साथ ही जीवन के कई सफलताओं को प्राप्त कर अपने जीवन में एक नई ऊर्जा व सकारातमकता ला सकते है।इसलिए हम कह सकते है कि लाइफ में टर्ननिग प्वाइंट लाने के लिए सकारत्मक विचारों का होना अति आवश्यक है। 

2- बुरी आदतों का त्याग -: 

जिस प्रकार हम साकारात्मक विचारों को अपनाकर अपने जीवन में एक नई ऊर्जा व बदलाव ला सकते है उसी प्रकार बुरी आदतों को स्वीकार करके भी हम अपने जीवन में बदलाव ला सकते है। अब हमारे सामने प्रश्न ये उठता है कि वे कौनसी बुरी आदतें है जिनका त्याग कर हम अपने जीवन में एक नया बदलाव लेकर आ सकते है। तो चलिए हम जानते है उन बुरी आदतों के बारे में...

(क) हमारे जीवन की कुछ बुरी आदतें -:
(ख) गलत वस्तुओं का सेवन 
(ग) दिनचर्या के साथ कार्य को नहीं करना 
(घ) अपने कार्य के प्रति जागरूकता नहीं रखना 
(च) अपशब्दों का प्रयोग करना 
(छ) गलत मित्रों के साथ तालमेल रखना 

ये कुछ बुरी आदतें है हमारे जीवन की जिसका त्याग कर हम अपने जीवन में एक बहुत बदलाव ला सकते है तथा अपने जीवन को खुशहाल बना सकते है। अतः जीवन में टर्न्निंग प्वाइंट लाने के लिए बुरी आदतों का त्याग करना भी जरूरी है। 

3- जीवन का लक्ष्य -: 

जीवन में साकारात्मक विचारों को अपनाकर व बुरी आदतों का त्याग करने के साथ ही साथ जीवन में लक्ष्य को तय करके चलने से भी हम अपने जीवन में बदलाव ला सकते है, क्यूंकि जब हम अपने लक्ष्य को अपने जीवन तय करके आगे बढ़ते है तो उस लक्ष्य की प्राप्ति में हमें सफलता मिलना शत प्रतिशत तय होता है कि हम अपने जीवन में अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकते है। तथा समाज अपनी एक नई पहचान बना सकते है। इसलिए हर व्यक्ति को चाहिए कि वे अपने जीवन के लक्ष्य को तय करके अपने जीवन में आगे बढ़े जिससे उन्हें सफलता प्राप्ति कम कठिनाइयों से गुजरना पड़ता है और वे आसानी से सफलता है शिखर पर पहुंच सकते है। इसलिए हमें अपने जीवन बदलाव लाने के लिए व सफलता प्राप्त करने के लिए अपने जीवन के लक्ष्य को पहले से ही तय करके आगे कदम उठाने चाहिए। जीवन में टर्निंग प्वाइंट लाने के लिए जीवन का लक्ष्य निर्धारित होना भी आवश्यक है ।

4- नकारात्मक लोगों से दूरी -:

 हमें अपने जीवन में एक सकारत्मक बदलाव लाने के लिए सकारत्मक विचारों को अपनाने के साथ ही साथ नकारात्मक लोगों से दूरी रखना भी उतना कि आवश्यक है जितना जीवन में सकारत्मक विचारों को अपनाना, क्यूंकि नकारात्मक व्यक्ति के संपर्क में रहने से हमारे अंदर नकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न होती है जिससे हमारे अंदर नकारात्मक विचार स्वयं ही आने लगते है। इसलिए हमें नकारत्मक लोगों से दूरी बनाकर रखना चाहिए व उनके संपर्क में आने से बचना चाहिए ताकि जिससे उनके नकारात्मक सोच का असर हमारे जीवन पर न पड़ सके। इस प्रकार नकारात्मक लोगों से जितना हो सके उतना दूर रहकर हम अपने जीवन में एक बदलाव लकर अपने जीवन को और अधिक सरल व खुशहाल बना सकते है। नकारात्मक लोगों से दूरी भी जीवन में टर्निंग प्वाइंट के लिए महत्वपूर्ण है।

5- एक उचित दिनचर्या -: 

हम अपने जीवन में कितनी भी अच्छी चीजों को क्यों ना अपना ले लेकिन यदि हमारे पास एक उचित दिनचर्या नहीं है तो हमारे जीवन में बदलाव नहीं आ सकता। क्यूंकि एक उचित दिन चर्या ही हमें अपने कार्य के प्रति जागरूक बनाती है तथा एक उचित दिनचर्या से ही हम समय का सद उपयोग कर अपने जीवन में एक सकारत्मक बदलाव ला सकते है। अब प्रश्न ये उठता है कि हम किस प्रकार से एक सही व उचित दिनचर्या को अपनाकर अपने जीवन में बदलाव ला सकते है । नीचे कुछ ऐसे ही बिंदु है जिसको अपनाकर हम अपनी दिनचर्या को बेहतर बना सकते हैं-:

1- समय पर सोना व समय पर उठना एक अच्छी दिनचर्या में आता है ।
2- अपने कार्य को समय पर पूर्ण करना। 
3- समय पर भोजन आदि करना ।
4- अपने सभी कार्यों को करने के लिए एक उचित समय व समय सीमा को ध्यान में रखना ।
5- समय के अनुसार अपनी दिनचर्या में फेर बदल करते रहना ताकि रोज हमें एक अच्छी दिनचर्या प्राप्त हो सकें। 

ये कुछ महत्वपूर्ण बातें है, जिनको ध्यान में रखकर हम अपनी दिनचर्या को बेहतर बना सकते है तथा साथ ही अपनी ज़िन्दगी में एक सकारत्मक बदलाव भी ला सकते है। इसप्रकर एक उचित दिनचर्या भी जीवन में टर्निंग प्वाइंट ला सकता है। 

इस प्रकार ये कुछ महत्वपूर्ण बिंदु थे जिनका जिक्र हमने पूर्ण रूप से आपके समक्ष किया । जिसे अपनाकर व ध्यान में रखकर हम लोग अपनी ज़िन्दगी में एक नई ऊर्जा के साथ ही साथ एक सकारत्मक परिवर्तन भी ला सकते है । ये परिवर्तन हमारे जीवन उत्साह, खुशहाली , सफलता व निरंतर गातिमान रहने के लिए अति महत्वपूर्ण माने जाते है। इन्हें अपनाकर हम एक स्वस्थ जीवन के साथ साथ एक सफल व सकारत्मक जीवन भी प्राप्त कर सकते है। इसलिए इन नियमों को समाज के हर व्यक्ति चाहे वे किसी भी युवा वर्ग के हो सभी को अपनाना चाहिए जिनसे उनके जीवन में सकारात्मकता के साथ साथ सफलता का भी आगमन होता है। और इन्हें अपनाकर हर व्यक्ति अपने जीवन के सभी सुखों का आनंद प्राप्त करने में सक्षम रहता है। 

निष्कर्ष -: 

अंततः हम कह सकते है कि एक सफल जीवन व्यतीत करने के लिए व जीवन को सुखदाई बनाने के लिए जीवन में सकारत्मक विचारों को अपनाना, सकारत्मक लोगों के संपर्क में रहना, जीवन का लक्ष्य निर्धारित होना,नकारात्मक लोगों से दूरी बनाकर रखना व एक उचित दिनचर्या का होना अति आवश्यक है। जिन्हें अपनाकर हम अपने जीवन में एक नया बदलाव व एक नई ऊर्जा ला सकते हैं। व जीवन के सभी पलों को खुलकर सफलता के साथ व्यतीत कर सकते है। अंततः हम कह सकते है कि जीवन में टर्निंग प्वाइंट लाने के लिए इन सभी बिंदुओं को अपनाना अति आवश्यक है ।

इस प्रकार जीवन में टर्निंग प्वाइंट कैसे लाए इस विषय पर हमारी चर्चा पूर्ण होती है मैंने आशा करता हूं कि मेरे द्वारा दी गई जानकारी आपके जीवन में एक नया बदलाव लाने के साथ साथ उपयोगी हो । व इससे आपके जीवन में सकारात्मक परिवर्तन आए। जीवन में टर्निंग प्वाइंट कैसे लाए विषय पर हमारी ये चर्चा यही समाप्त होती है। 

                                                          जय हिन्द, जय भारत


No comments:

Post a Comment

please do not enter any spam link in the comment box