sahityase

hindi,language,literature,grammar,story,learning,poets,writers,comedy,books,career,reasurch,festival,film,technique, biography,rachnaye,hindi khoj

Translate

                            internet chatting

chatting,online chat
internet chatting

     साथियो आज आपके साथ internet chatting से जुड़े मेरे वास्तविक अनुभव शेयर कर रहा हूँ। प्रत्येक व्यक्ति आनंद लेना चाहता है। और इसके लिए वह कुछ न कुछ करता रहता है।  आज के आधुनिक युग में इसके लिए  बहुत से उपाय उपलब्ध है। जैसे -फेसबुक, व्हाट्सअप, चैटिंग एप, फ्रैंडसिप एप, सेक्सुअल साइट और बहुत से सोशल मीडिया एप आदि है। हम सब इन माध्यमो का अपने -अपने जरुरत के हिसाब से उपयोग करते है।

     क्या आपको पता है कि जो लोग इन माध्यमो से अपने जरुरत की पूर्ति में लगे हुए है।  उनमें से अधिकांश लोग इसके बुरिलत से भी ग्रसित है। कुछ लोग इसका नाजायज फायदा उठा रहे है। तो कुछ लोग इससे क्राइम को बढ़ावा दे रहे है। अब आपको समझना है कि आप किस श्रेणी में  इसका उपयोग करना चाहते है। मै इस लेख को इसलिए लिख रहा हूँ कि जो लोग internet chatting करते है। वह सावधान हो जाये। क्योकि इससे व्यक्ति का मान-सम्मान खोने का डर बना रहता है। तो कभी कानूनी चंगुल में फसने का डर भी रहता है। इसलिए आप पाठक बंधु मेरे साथ घटित इस घटना क्रम से कुछ लाभ उठा सकते है।
     यह सिलसिला मेरे विवाह के बाद का है। क्योंकि मै अपने आप को अकेला महसूस करता था। इसलिए अपने अकेलेपन को दूर करने के लिए फेसबुक, व्हाट्सअप, चैटिंग एप, फ्रैंडसिप एप, सेक्सुअल साइट और बहुत से सोशल मीडिया एप आदि का सहारा लेने लगा। समय के साथ -साथ मैं इसके आदि होने लगा। सुरु -सुरु में मुझे अच्छा लगने लगा। अपने बहुमूल्य समय इसके पीछे बर्बाद करने लगा। परन्तु मैं इसके बुरे प्रभाव से पूरी तरह से बेखबर था।

      internet chatting में मैंने एक बहुत अच्छी तरह से गौर किया है। वो है महिलाओ की सक्रियता। अर्थात जब आप किसी  फेसबुक, व्हाट्सअप, चैटिंग एप, फ्रैंडसिप एप, सेक्सुअल साइट और बहुत से सोशल मीडिया एप आदि का प्रयोग करना सुरु करेंगे। तो आप देखेंगे कि इसमें ऐसी -ऐसी महिलाये सक्रिय रहती है। जिसकी हम कल्पना भी नहीं कर सकते। तो कुछ महिलाये अकेलेपन को दूर करने की बजह से इसमें संलग्न होने की बात करेंगी।  तो कुछ महिलाये इसको एक व्यवसाय का जरिया बना लिया है। तो कुछ महिलये अच्छी भी मिलेंगी। पर एक बात मैं कह सकता हु कि किसी भी व्यक्ति का ऑनलाइन चैटिंग में संलग्न होना उनके लिए, समाज और देश के लिए सही नहीं है। क्योकि इसके घातक परिणाम असहनीय होता है। इसके घातक परिणाम से ग्रसित व्यक्ति का समाज में मान-सम्मान घाट जाता है। कभी -कभी व्यक्ति आत्महत्या जैसे कदम भी उठा लेता है। यह एक नशा है। इस नशे में व्यक्ति का मन और बुद्धि दोनों सही से काम करना बंद कर देता है। यू कहिये कि हम काम वासना की ओर अग्रसर हो जाते है।
     यह एक मानसिक बीमारी भी है। जब किसी को यह बीमारी होती है। तो व्यक्ति सामने कौन है ? यह ध्यान नहीं रह जाता है। तब उसे दीखता है केबल अपनी जरुरत। और यह बात पूरी तरह से सत्य है। पर हम इन सब बातो की ओर ध्यान नहीं देते है। और फस जाते है इसके बुरे चंगुल में। ईश्वर ने कहा है कि मनुष्य तीन कारणों से नरक जाता है -काम, क्रोध, और मोह।

     पाठक बंधुओ आप सब एक बात का ध्यान अवश्य रखे कि ऑनलाइन चैटिंग के अवसरों का लाभ उठाने से पहले उनके गुर -दोषो को अच्छी तरह समझ ले। अन्यथा आप किसी बड़ी समस्या में पड़ सकते है।
      internet chatting में दूसरी बड़ी बात जो मैंने गौर किया है।  वो है चैटिंग करने वाले लोग किस तरह की बात पसंद करते है? इसका मेरा जबाब है कि ज्यादातर लोग सीधा सिंपल बाते करना कम पसंद करते है। और जो पसंद करते है वो है हॉट, और सेक्स से भरी बाते।
     अब प्रश्न यह है कि यह बाते मुझे कैसे पता ? तो मै आपको बताना चाहूँगा कि कुछ परिचित, तो कुछ अपरिचित लोगो से मैंने कुछ दिनों तक चैटिंग की है। internet chatting में हमने यह पाया कि चैटिंग करने बाले लड़की, लड़के, महिला-पुरुष आदि ९०% लोग इसके बुरिलत का शिकार है।
      internet chatting के दौरान मै दो बार बड़ी समस्या के चंगुल में बुरी तरह फस गया था।  पहली बार जब एक दिन मेरे पास किसी महिला का फोन आया।  और उसने कहा कि अपने हमारे साइट में रजिस्ट्रेशन किया है।  मैंने कहा नहीं।  पर उसने  दबाव देकर कहा कि  नहीं आपने रजिस्ट्रशन किया है।  अब इसका चार्ज देना पड़ेगा। मैंने सोचा शायद गलती से हो गया होगा।  उसने कहा यदि तुम अपना नाम हमारे साइट से डिलीट करवाना चाहते हो।  तो अभी इतने रूपये देना पड़ेगा। मैंने कहा यदि मै नहीं दू तो क्या होगा ? उसने मुझे दस -पन्द्रह दिनों तक ब्लैकमेल करने की कोशिश की।  दूसरी बार जब मेरे ही पास पढ़ी हुई छात्रा से चैटिंग के दौरान कुछ ऐसी चैटिंग की जो मुझे नहीं करना चाहिए था। दोनों ही परिस्थिति में मेरे लिए जीवन की एक नई  चुनौती बनकर आई।

      चुनौती यह है कि जब मेरे साथ यह घटना घटी , उन दिनों मै मानसिक तौर पर इतना परेशान था कि किसी से इन बातो को शेयर करने में भी लज्जा आ रही थी। अपने आप पर घृणा हो रही थी। बस एक ही तरकीब तलाश रहा था कि यह मुसीबत कैसे टले। परन्तु कोई रास्ता नहीं मिल रहा था। पर ईश्वर की असीम कृपा है कि जैसे -तैसे उन मुसीबतो से बाहर आ गया। और तब से प्रतिज्ञा किया कि इन चीजों से दूर रहूँगा।
     इसलिए यह लेख उन पाठक बंधुओ के लिए है जो इस बुरीलत में फस गया है। या फिर वो फसने के कगार पर है।  अतः मेरा मकसद है कि आप और आपका परिवार इस घृणित कार्य से बचे रहे। तथा आप किसी बड़ी समस्या में न फसे। यही मेरी ईश्वर से कामना है। और यही मेरी हमेशा कोशिश रहेगी।
     अंत में आपसे अनुरोध है कि आप मेरे साइट को फॉलो करे जिससे कि मै आपके लिए इसी तरह के समस्या निवारक वास्तविक लेख प्रस्तुत कर सकू।
                                                                          
     

No comments:

Post a Comment

please do not enter any spam link in the comment box